पानीपत जिला प्रशासन ने लॉकडाऊन की ऐसी संकट की स्थिति में और गरीब लोगों को सहायता प्रदान करने के लिए अडॉप्ट-ए-फैमली योजना के तहत लोगों से अपील की है कि संकट की इस घड़ी में लोग परिवारों को गोद लेकर संकट मोचक की भूमिका अदा करें। इस पहल पर पार्क अस्पताल ने एक हजार परिवारों को गोद लेने की अपनी संस्तुति भी दे दी है।
उपायुक्त हेमा शर्मा ने कहा कि लॉकडाऊन के दौरान लोगों को सामाजिक सदभाव की जरूरत है। 
   जिले की सामाजिक, धार्मिक और शैक्षणिक संस्थाओं ने हमेशा से ही ऐसे कार्य में बढ़चढ़ कर भाग लिया है। उन्होंने अपील की कि परिवार को गोद लेने की इस योजना के तहत दैनिक वेतन भोगी कार्यकर्ता,दिहाड़ीदार, निर्माण कार्य में लगे मजदूर, रिक् शा चलाने वाले, भिखारियों, जिनके अपने घर नहीं हैं और बेसहारा लोगों की मदद की जाएगी। लोगों को इस धनराशि से खादय सामग्री जैसे आटटा, दाल, चावल, तेल, आलू और दवाईयां इत्यादि सामान दिया जाएगा।
उन्होंने अपील की कि एक परिवार के लिए एक हजार रूपये की धनराशि की सहायता दी जा सकती है। प्रशासन की तरफ से स्थानीय आईसीआईसीआई बैंक में कोरोना रिलीफ फण्ड के तहत 017401003794 खाता खोला गया है। जिसका आईएफएससी कोड आईसीआईसीआई 0000174 है। 

उधर कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय लघु सचिवालय में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जिसका नम्बर 0180-2653850 व 0180-2631855 है। इसके साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग की ओर से भी कोविड-19 के लिए उप सिविल सर्जन डॉ0 सुनील संदूजा मोबाइल नम्बर-9416788081 और उप सिविल सर्जन डॉ0 निशी जिंदल गुप्ता मोबाइल नम्बर-9466029502 को नोडल अधिकारी बनाया गया है  

Share: