वायस आफॅ पानीपत(कुलवन्त सिंह)- पानीपत जिले के बांध गांव में लूट का केस दर्ज कराने से खफा बदमाश बदला लेने पहुंचे तो ग्रामीणों ने 2 बदमाशों को गोली मारकर ढेर कर दिया। दोनों तरफ से करीब 12 राउंड फायरिंग हुई। गोली एक बदमाश के सिर के पार निकल गई। दूसरे के नाक के पास गोली लगने का निशान है। सरगना दो साथियों संग कार से फरार हो गया।

बता दें कि आरोपियों ने 14 अगस्त की देर रात कोहंड (करनाल) स्थित धर्म ढाबे पर पिस्टल के बल पर लूट की थी। आरोपियों ने धमकी दी थी कि पुलिस को शिकायत दी तो अंजाम बुरा होगा। इसके बाद थाना घरौंडा में केस दर्ज कराया था। वहीं, थाना इसराना में शिकायत दे सुरक्षा मांगी थी। वारदात के बाद डीएसपी संदीप पहुंचे और इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया।

रात को वह घर आए तो इसकी जानकारी विकास को लग गई। विकास रात 9.30 बजे सफेद रंग की कार में आया। उसके साथ एनसी कॉलेज का गार्ड सतीश और गांव डिकाडला का मनीष समेत 5 लोग थे। मनीष व सतीश कार से उतरकर घर के अंदर आने लगे। सभी ने फायरिंग शुरू कर दी। यह देख गांववालों ने भी फायरिंग कर दी। सतीश और मनीष वहीं ढेर हो गए। विकास अपने दो साथियों के साथ कार लेकर फरार हो गया।गांव बांध के रहने वाले धर्मपाल ने बताया कि वह 3 भाई हैं। उनकी पत्नी अनीता, बेटी अंजली, तन्नू, भाई राजबीर, भाभी सरिता और पिता धजाराम गांव बांध स्थित मकान में रहते हैं। वह कोहंड स्थित धर्म ढाबे में रहते हैं। भतीजा विजय रहता है। 14 अगस्त की रात करीब 11 बजकर 40 मिनट पर काले रंग की कार से उतरे विकास और उसके 3 साथियों ने पिस्टल तान कर गल्ले में रखे 60 हजार रुपए लूटे थे। विजय के विरोध करने पिस्टल के बट से घायल कर दिया था। आरोपी सोने की चेन भी लूट ले गए थे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: