वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह):-एडीसी डा0 मनोज कुमार ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा है कि कोरोना जांच करवाने से बिल्कुल भी नहीं घबराएं। स्वास्थ्य विभाग अब परिस्थिति अनुसार कोरोना पोजिटिव व्यक्तियों को होम आइसोलेशन की इजाजत दे रहा है। कोरोना जांच की मुफ्त सुविधा सिविल अस्पताल, सैक्टर 12 तथा सैक्टर 15 के प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र तथा समालखा के सरकारी अस्पताल, बापौली, खोतपुरा, ददलाना, नारायणा, अहर, मडलौडा व नौल्था के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध है तथा उपरोक्त वर्णित व्यक्तियों की सैम्पलिंग प्राथमिकता के आधार पर की जाती है।
उन्होंने कहा कि ऐसे सभी मरीज अपने चिकित्सकों से परामर्श करके उनके पूर्व में चल रहे ईलाज को जारी रखें तथा कोई भी लापरवाही नहीं बरतें। दूसरा ऐसे व्यक्ति परिवार के उन सदस्यों से अलग कमरे में रहकर दूरी बनाकर रखें जो रोज कार्यस्थल पर या बाहर बाजर में जाते हैं। स्व्यं सदा मास्क लगाकर बाहर निकलें तथा अपने हाथों को साबुन से धोंए।
आमजन में कोरोना के कोई भी लक्षण जैसे कि तेज बुखार, गला खराब इत्यादि नजर आते हैं तो तुरंत पास के स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर अपनी कोरोना की जांच करवाएं। यहां यह उल्लेखनीय है कि जांच करवाने हेतु सांस लेने में तकलीफ होने के लक्षण का इंतजार न करें।
डा0 मनोज कुमार ने कहा कि जैसै-जैसे अनलॉकडाउन की प्रक्रिया आगे बढ़ती जा रही है, वैसे ही कोविड-19 के भी पोजिटिव केस भी बढ़ते जा रहे हैं। यद्यपि जिले में लगभग 2000 लोग ठीक हो चुके हैं। लेकिन 40 मौतों का आंकड़ा बहुत दुखदायी है। समय पर कोरोना का पता चलने तथा चिकित्सकीय सलाह व देखभाल से काफी हद तक इन मौतों को कम किया जा सकता है। ऐसे व्यक्ति जिनमें कोरोना की वजह से संक्रमणता गंभीर रूप ले सकती है, उन्हें अत्याधिक सावधानी की जरूरत है। वे व्यक्ति   जिनकी उम्र 50 वर्ष से अधिक हो और जिन्हें गुर्दे (किडनी), यकृत(लीवर) या ह्रदय रोग की हिस्ट्री हो, टी.बी., कैंसर, उच्च रक्तचाप तथा डायाबिटिज के मरीज हो। कोरोना से संबंधित आपात स्थिति होने में 108 नम्बर पर डायल करके सहायता मांग सकते हैं।  

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: