वायस आफॅ पानीपत(देवेंद्र शर्मा):कोरोना के बढ़ते केसाें काे देखते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने फैसला लिया है कि अब जिले की हर सीएचसी-पीएचसी सहित 29 स्वास्थ्य केंद्राें पर आरटीपीसीआर और एंटीजन किट से टेस्ट हाेंगे।सीएमओ डाॅ. संतलाल ने शुक्रवार काे सिविल अस्पताल में एडीसी, एमडी शुगरमिल, आईएमए के डाॅक्टर, सभी डिप्टी सीएमओ की मीटिंग ली। सीएमओ ने कहा कि काेराेना काे राेकने के लिए हर लेवल पर सैंपलिंग हाेनी जरूरी है। इसके लिए हर सीएचसी-पीएचसी, यूपीएचसी पर सैंपलिंग साेमवार से शुरू हाेगी।

सीएमओ ने बताया कि हाेम आइसाेलेशन में रखे गए मरीजाें काे पूरी किट दें।हाेम आइसाेलेशन में रखे गए काेराेना संक्रमित काे उस एरिया के सरकारी डाॅक्टर. के बारे में पता हाेना चाहिए। इसके लिए ये है कि सब मरीजाें काे अपना नंबर दें। समय-समय पर उसका हाल-चाल जानें। इसके साथ ही मरीज के घर के पास लगते अस्पताल के डाॅक्टर का नंबर भी जरूर दें ताकि मरीज उनसे भी सलाह ले सकें। मीटिंग में नाेडल अधिकारी डाॅ. सुनील संडूजा, डाॅ. ललित वर्मा, डाॅ. शशि गर्ग, डाॅ. सुनील, एमएस डाॅ. आलाेक जैन, डिप्टी एमएस डाॅ. अमित सहित आईएमए के डाॅक्टर माैजूद रहे।सीएमओ डाॅ. संतलाल वर्मा ने बताया कि आईएमए से जुड़े डाॅक्टर भी इस महामारी में सेवा के भागीदार बनें। वाे अस्पताल में ड्यूटी, उनके लिए जल्द ही ड्यूटी राेस्टर बनाया जाएगा। वाे सिविल अस्पताल में आकर सैंपल लें। साथ ही निजी अस्पताल में जितने भी मरीज एडमिट हैं उन सभी का एंटीजन किट से टेस्ट जरूर करवाएं। क्याेंकि काेराेना की चेन काे आगे बढ़ने से हमें हर हाल में राेकना है। निजी अस्पताल के डाॅक्टर लाेगाें काे फाेन पर जरूरी जानकारी दें।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: