वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- विकास नगर के एक छात्र ने दोस्त से बोलना छोड़ दिया था। इसी रंजिश में दोस्त ने स्वजनों सहित 30 लोगों के साथ मिलकर छात्र के स्कूल संचालक पिता, मां, दादी, चाचा और पड़ोसी को रॉड, गंडासी व डंडों से हमलाकर घायल कर दिया। निजी स्कूल संचालक विकास नगर के जोगिद्र राठी ने पुलिस को शिकायत दी कि 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले बेटे अमन की कॉलोनी के सतीश पंडित के बेटे अंकुश के साथ दोस्ती थी। बेटे ने अंकुश के साथ बोलना छोड़ दिया था। इसी रंजिश में अंकुश के साथ बार-बार झगड़ा करता था। उसने घर बुलाकर अंकुश को समझाया कि झगड़ा मत किया करो। तैश में अंकुश वहां से चला गया था। 21 अगस्त को रात नौ बजे वह घर के गेटे सामने कुर्सी पर बैठा था।

इसी दौरान सतीष, अंकुश, अंकित, ओमकार ढिल्लो सहित 30 लोगों ने उस पर गंडासी, रॉड व डंडों से हमला कर अधमरा कर दिया। शोर सुनकर मां प्रेमो देवी, पत्नी सुमन, भाई अजीत और पड़ोसी सुरेंद्र उसे छुड़वाना आए। आरोपितों ने उन्हें भी पीटकर घायल कर दिया। आरोपित हथियार लहराते हुए फरार हो गए। स्वजनों ने घायल जोगिद्र और सुरेंद्र को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से उन्हें पीजीआइ रोहतक रेफर कर दिया। बाद में स्वजनों ने एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: