वायॅस आफॅ पानीपते(कुलवन्त सिंह)- सेक्टर- 29 में फ्लोरा चौक के पास करीब 5 माह पहले चाकू मारकर 25 वर्षीय दुर्वेश की हत्या के मामले में सीआईए-टू ने शनिवार शाम दिल्ली से सुपारी किलर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इससे पहले कथित प्रेमी गिरफ्तार हो चुका है। जो दुर्वेश की पत्नी से प्रेम करता था और उससे शादी करने के लिए 50 हजार रुपए देकर दुर्वेश की हत्या कराई थी। सुपारी के सारे रुपए आरोपियों ने ऐसो-आराम में उड़ा दिए। रविवार को उन्हें जेल भेज दिया।

सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर विरेंद्र सिंह ने बताया यूपी के अलीगढ़ के गांव समैना निवासी दुर्वेश यहां नांगलखेड़ी में किराए पर रहता था। 21 मार्च की रात को सेक्टर 29 स्थित फैक्ट्री में ड्यूटी पर जाते समय अज्ञात आरोपियों ने फ्लोरा चौक के पास चाकू मारकर दुर्वेश की हत्या कर दी थी। दुर्वेश की शादी को करीब 8 माह ही हुए थे। मामले में अलीगढ़ के हबीबगंज निवासी दुष्यंत को गिरफ्तार किया गया था। उसने कबूला था कि वह दुर्वेश की शादी से पहले उसकी पत्नी को जानता था और उससे शादी करना चाहता था। लेकिन शादी नहीं हो पाई।

उसने दुर्वेश की हत्या कर उसकी पत्नी से शादी करने की साजिश बनाई। हत्या के लिए उसने अपने गांव के विशाल को 50 हजार रुपए सुपारी दी। आरोपी विशाल ने अपने साथी अलीगढ़ के जटपुरा गांव प्रवीन व दनवीर को साजिश में शामिल कर लिया। तीनों ने पानीपत आकर रैकी की और फिर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी फरार थे। शनिवार शाम सीआईए ने दबिश देकर तीनों को दिल्ली से काबू किया।


इंस्पेक्टर विरेंद्र सिंह ने बताया कि तीनों आरोपी नशा करने के आदी है। नशे की लत पूरी करने के लिए पैसों की जरूरत पड़ी तो दुष्यंत से 50 हजार रुपए लेकर उन्होंने वारदात की थी। तीनों ने रुपए खर्च कर दिए। उनको जेल भेज दिया। आरोपी विशाल का भाई पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज है। वह तिहाड़ जेल में बंद हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: