वायस ऑफ पानीपत (कुलवंत सिंह) -: पानीपत में कोविड-19 सर्वे में ड्यूटी के दौरान जो लोग गैर मौजूद मिले उनमें 10 लोगों के खिलाफ जिला प्रशासन ने सिटी थाना में FIR दर्ज कराई है। इनमें लेक्चरर, क्लर्क, लाइनमैन, जेबीटी आदि शामिल हैं। मामला आपदा प्रबंधन एक्ट-2005 की विभिन्न धाराओं में दर्ज किया गया है। ड्यूटी नहीं करने के संबंध में इन्हें पुलिस के समक्ष पक्ष रखना होगा। एडीसी प्रीति ने 10 जुलाई को एसपी मनीषा चौधरी को एक शिकायत दी थी। इसमें लिखा गया था कि कोविड-19 सर्वे में विभिन्न विभागों के कर्मचारियों की बतौर बीएलओ-टीम लीडर ड्यूटी लगाई गई थी। शहर विधानसभा क्षेत्र में घर-घर दस्तक देकर परिवार के सदस्यों का ऑनलाइन डाटा एकत्र करना था।

ड्यूटी लगने के बावजूद कर्मचारी लापरवाही बरतते हुए, अनुपस्थित रहे हैं। हरियाणा सरकार के दिशा-निर्देश अनुसार जिला निर्वाचन अधिकारी पानीपत के आदेशानुसार यह ड्यूटी लगाई गई थी। संबंधित अधिकारी ने कई बार कर्मचारियों को कॉल की गई, रिसीव नहीं हुई। कार्यालय के माध्यम से भी टेलीफोन कराए, जबाव नहीं मिला। जिला निर्वाचन कार्यालय के माध्यम से भी सूचना दी गई, इसके बावजूद रुचि नहीं दिखाई। कार्य में लापरवाही बरतने पर कर्मचारियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया जाए। एसपी के आदेश पर सिटी थाना में 10 लोगों के विरुद्ध डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट-2005 की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: