हरियाणा, दिल्ली व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गर्मी व लू का प्रकोप बढ़ रहा है। मौसम विभाग ने 25 व 26 मई को पडऩे वाली गर्मी को लेकर रेड अलर्ट जारी कर दिया है। इन क्षेत्रों में लोगों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ सकता है। लू और चिलचिलाती धूप में हीट स्ट्रोक के खतरे को देखते हुए लोगों को घर से बाहर निकलते समय एहतियात बरतने की सलाह दी गई है। 

उत्तर भारत में 28 मई तक गर्मी से राहत की उम्मीद न के बराबर है। 29 मई से एक प्रभावी पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर के पास पहुंचने का अनुमान है। इसके चलते एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मैदानी भागों पर विकसित होगा। इन दोनों सिस्टम के कारण न सिर्फ पहाड़ों पर, बल्कि मैदानी भागों में बरसात हो सकती है।

29 से 31 मई के बीच समूचे उत्तर भारत में बरसात की गतिविधियां देखने को मिल सकती हैं। यह प्री मानसून का आखिरी चरण होगा। हरियाणा, पंजाब व उत्तर प्रदेश क्षेत्र से यह चरण शुरू होगा। धीरे-धीरे अन्य इलाकों में भी मौसम बदल सकता है। इस दौरान पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में बादल छाने के साथ ही गरज के साथ बरसात हो सकती है।

केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान, करनाल के मुताबिक जारी रेड अलर्ट को देखते हुए दक्षिण हरियाणा के जिलों हिसार, महेंद्रगढ़ व नारनौल में अधिकतम तापमान 48.0 डिग्री सेल्सियस को पार कर सकता है। अन्य जगह पर भी तापमान 44 से 45 डिग्री सेल्सियस के आसपास बने रहने की संभावना है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: