वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह)

जर्मनी भेजने का झांसा देकर कबूतरबाजों ने सुताना गांव के प्रवीन का मकान और डेयरी बिकवा दिया…9.50 लाख रुपये हड़पने के बाद अरमेनिया का वीजा लगवा दिया…वहां बदमाशों ने युवक संग मारपीट की और बाद में उसे तुर्की पुलिस के हवाले कर दिया…पुलिस ने कई दिनों तक उसे वान शहर की जेल में बंद रखा..फिर 21 दिसंबर, 2019 को स्वदेश डिपोर्ट कर दिया…अब स्थानीय पुलिस ने सुनवाई नहीं की तो पीडि़त ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। फिलहाल असंध रोड स्थित एक निजी अस्पताल में उपचाराधीन प्रवीन की हालत चिंताजनक बनी हुई है।

सुताना गांव के मनीष ने बताया कि उसकी, छोटे भाई प्रवीन और बड़े भाई सुनील की गांव में डेयरी थी। उनके ममेरे भाई वेदपाल ने उन्हें सुखदीप निवासी निगदू, मनोज और उसके पिता धर्मसिंह निवासी गांव मंजूरा से मिलवाया। आरोपितों ने 12 लाख रुपये में प्रवीन को जर्मनी भेजने की बात कही। उनके झांसे में आकर प्रवीन ने गांव में स्थित उसका 250 गज का मकान और डेयरी बेच दी। उसने आरोपितों को 13 और 20 अक्टूबर 2019 को 8.50 लाख रुपये दे दिए।

9 नवंबर को आरोपितों ने उसका जर्मनी का वीजा लगने की बात कही, एक लाख रुपये देकर पासपोर्ट लेने के लिए करनाल बुलाया। प्रवीन ने करनाल जाकर रुपये दिए और अपना पासपोर्ट ले लिया। फिर आरोपित मनोज उसे और उसके ममेरे भाई वेदपाल को लेकर पहले जयपुर और फिर अहमदाबाद चला गया। वहां से आरोपित ने 12 नवंबर को उन्हें जर्मनी भेजने की बजाए अरमेनिया भेज दिया था।

भाई मनीष ने असंध नाका चौकी पुलिस पर उन्हें बार-बार समय देने और सुनवाई नहीं करने का आरोप लगाया। आरोप है कि पुलिसकर्मी कभी उनसे मकान बेचने संबंधी कागजात तो कभी प्लेन का नंबर लाने के लिए कहते हैं। कई बार पंचायत होने पर भी सुनवाई नहीं हुई तो प्रवीन ने बुधवार को सल्फास निगल लिया।

भाई सुनील ने बताया कि गांव की जमीन-जायदाद बिकने के बाद उनके पास सिर छिपाने तक का आसरा नहीं रहा। अब परिवार सौंधापुर गांव में किराए के मकान में रह रहा है। वहीं शुक्रवार तक उनके पास पड़े सारे रुपये भी खत्म हो जाएगे। कबूतरबाजों ने परिवार को सड़क पर लाकर खड़ा कर दिया है।

प्रवीन के स्वजन आरोपित धर्मसिंह से कई बार रुपये मांगने गए तो उसने बेटे मनोज द्वारा कई लोगों को इसी तरह ठगे जाने का दावा किया। बेटे बारे कोई जानकारी नहीं होने की बात कही। इतना ही नहीं आरोपित ने निसिंग थाने में बेटे मनोज की गुमशुदगी का मामला भी दर्ज करा रखा है।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: