पानीपत के एसपी ने अधिकारियों और कर्मचारियों को दी नसीहत, कहा- पूरी वर्दी में करें काम

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

मिनी सचिवालय के तृतीय तल पर एक कल्याण गोष्टी व अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया..जिसमें जिले के चारों DSP, डीएसपी मुख्यालय सतीश कुमार वत्स, डीएसपी सिटी सतीश कुमार गौतम, डीएसपी क्राइम राजेश फोगाट, व डीएसपी समालखा विजेंदर सिंह ने भाग लिया…और थाना प्रभारियों व चौकी प्रभारियों ने भी भाग लिया..क्राइम मीटिंग में पुलिस अधीक्षक ने जिले में पेंडिंग केसों के बारे में जानकारी ली और कहा कि जितने भी पेंडिंग केस हैं..और जितनी भी पेंडिंग शिकायत है..उनका निपटारा एक सप्ताह के अंदर-अंदर हो जाना चाहिए..किसी के पास भी कोई कागज पेंडिंग नहीं होना चाहिए व धारा 498 ए में तुरंत गिरफ्तारी होनी चाहिए…वही अगर कोई थाने में आकर झूठी शिकायत देता है तो उसके खिलाफ 182 के तहत कार्रवाई की जाए..लड़ाई-झगड़े में अक्सर देखा गया है कि धारा 379 ए व धारा 379 बी लगा दी जाती है..जो कि अक्सर झूठी पाई जाती है..जनता पुलिस से न्याय की उम्मीद रखती है और हमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को न्याय दिलाकर इस कसौटी पर खरा उतरना चाहिए..

सीएम विंडो की शिकायतों का तुरंत समाधान करके रिपोर्ट पेश करें…और नाकेबंदी के बारे में पुलिस अधीक्षक ने सभी को सख्त आदेश दिए की रात्रि नाकाबंदी बहुत ही जरूरी है…सभी एसएचओ अपने इलाके में यह सुनिश्चित करेंगे कि रात में नाकाबंदी हो रही है या नहीं और खुद नाकों को रात्रि में गश्त के दौरान चेक करेंगे..थाने में कोई भी स्टाफ सादी वर्दी में कार्य करता नहीं होना चाहिए..वह थाना के अंदर पूरी व साफ-सुथरी वर्दी पहनकर ही पुलिस कर्मचारी व अधिकारी कार्य करें.. रात्रि के दौरान भी मुंशी पूरी वर्दी में रहेगा..अक्सर देखा गया है कि थानों और चौकियों में पुलिस कर्मचारी हुक्का गुड़गुड़ाते रहते हैं व सरेआम वर्दी पहनकर भी धूम्रपान करते रहते हैं जो कि गलत है इस पर पुलिस अधीक्षक ने कड़ा संज्ञान लेते हुए सभी को आदेश दिए हैं कि किसी भी थाना या चौकी में हुक्का या धूम्रपान नहीं होना चाहिए अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ तुरंत कार्यवाही की जाएगी


पुलिस अधिक्षक ने शराबी पुलिसकर्मियों को नसीहत देते हुए कहा है कि या तो वह सुधर जाए वरना उनके खिलाफ भी सख्त एक्शन लिया जाएगा… इस पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी पुलिस कर्मचारी व अधिकारी नशों से दूर रहे और ड्यूटी से थोड़ा समय निकालकर खेलों की तरफ भी ध्यान दें प्रत्येक पुलिस कर्मचारी व अधिकारी को एक खेल जरूर अपनाना चाहिए जिसे कि हमारी सेहत भी ठीक रहेगी… पुलिस अधीक्षक ने सभी थाना व चौकियों में वालीवाल व नेट भिजवा दिए हैं जिससे कि पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य ठीक रहे
सभी एसएचओ को आदेश दिए हैं कि अपने इलाके में बैंको के साथ मीटिंग करके यह सुनिश्चित करें कि बैंकों के आस-पास खाली प्लाट पड़े हुए हैं वहां पर एक बैंक अधिकारी अलग से दीवार बनाएंगे जिससे की सेंधमारी ना हो सके व बैंक को सुरक्षा प्रदान की जा सके…सभी पेट्रोल पंप मालिकों की मीटिंग लेकर यह सुनिश्चित करेंगे कि पेट्रोल पंप मालिक अपने पेट्रोल पंप के आगे सड़क पर दोनों तरफ कैमरा लगवायेगा…जिससे वाहनों व व्यक्तियों के आने जाने की रिकॉर्डिंग की जा सके..औऱ किसी भी वारदात के घटित होने पर दोषी को तुरंत पकड़ने में मदद मिल सकेगी और अपराध पर अंकुश लगेगा…


ऑपरेशन श्रीमान के संबंध में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि प्रत्येक पुलिस कर्मचारी व अधिकारी जनता को श्रीमान जी कहकर संबोधित करें ताकि जनता व पुलिस के बीच में अच्छा तालमेल स्थापित किया जा सके और जनता के अंदर विश्वास भी बनाया जा सके कि पुलिस उनकी दोस्त है व आम बोलचाल की भाषा में भी श्रीमान जी शब्द का प्रयोग किया जाए इसे प्यार और सौहार्द की भावना पैदा होती है।
पुलिस अधीक्षक ने एनडीपीएस स्टाफ को समालखा में शिफ्ट करके एनडीपीएस स्टाफ के साथ सीआईए समालखा बना दिया है व वाहन चोरी व पशु चोरी की घटनाओं को मद्देनजर रखते हुए सनौली नाका को दोबारा से चालू किया गया है जिसे की चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके व सनौली नाका पर तैनात सभी पुलिस कर्मियों को सख्त आदेश दिए हैं कि अगर कोई भी कर्मचारी वहां पर पैसे लेते हुए पाया गया तो उसे बख्शा नहीं जाएगा
मर्यादा में रहकर अपनी ईमानदारी के साथ ड्यूटी करें व आने जाने वाले वाहनों की सख्ती से चेकिंग करें अगर कोई संदिग्ध व्यक्ति मिलता है तो उसको तुरंत गिरफ्तार किया जाए। माननीय पुलिस अधीक्षक महोदय के संज्ञान में आया है कि पुलिसकर्मियों के बच्चे पुलिस कॉलोनी और पुलिस लाइन में गाड़ियां लेकर व बाइक लेकर हुड़दंगबाजी करते हैं जिसे की दुर्घटना का भय बना रहता है जो कि ऐसी शिकायत अगर किसी के खिलाफ भविष्य में मिली तो उसका तुरंत क्वार्टर कैंसिल कर दिया जाएगा व उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.. सभी थानों व चौकियों में टॉयलेट व किचन की व्यवस्था दुरुस्त की जानी चाहिए…इस बारे टी ए एस आई राम कुमार को हिदायत दी कि 1 सप्ताह के अंदर सभी थानों, चौकियों में टॉयलेट व किचन की मरम्मत करके उनको दुरुस्त किया जाए वह थाना और चौकियों में सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए…
TEAM VOICE OF PANIPAT

leave a reply

Voice Of Panipat

Voice Of Panipat