वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

आज सुबह बारिश होने से एक बार फिर ठंड ने दस्तक दे दी है। सुबह करीब 11 बजे शुरू हुई बारिश सबसे ज्यादा परेशानी किसके लिए खड़ी कर सकती है,इसका अंदाजा हम और आप दोनों लगा सकते हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं किसानों की, क्योंकि इस समय किसान अपने खेतों में लहलहाती फसल को देखकर कितने खुश होंगे,लेकिन ऐसे में अगर बरसात हो जाए तो इनकी फसलों को क्या नुकसान होगा,इस बात को भली-भांति समझा जा सकता है।ऐसे में अगर ओले गिरने की संभावना जताई जाए तो किसान काफी मुशकिलों में पड़ सकते हैं।

गौरतबल है कि कई दिन पहले भी बारिश से किसानों की फसल जमीन में बिछ गई थी। बारिश में फरवरी के अंत में भी लोग सर्दी का एहसास कर रही है।

बता दें कि मौसम विभाग ने 29 फरवरी को बारिश व तेज हवा चलने की संभावना दोहराई थी। विभाग के इस अलर्ट से एक बार फिर किसानों की चिंता बढ़ गई है। विशेषज्ञों का कहना है कि लगातार पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण बारिश की संभावना बनी है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 21.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 13.2 डिग्री सेल्सियस रहा। सुबह के समय नमी की मात्रा 75 फीसद दर्ज की गई। हवा 2.8 किलोमीटर से लेकर करीब तीन किमी. प्रतिघंटा की रफ्तार से चली।

TEAM VOICE OF PANIPAT…..

Share: