वायस ऑफ पानीपत (देवेन्द्र शर्मा)

अरबो रुपए का टैक्स देने के बाद भी देश के मानचित्र में सुनहरे अक्षरो से लिखे ओर हेंडलूम नगरी से पूरे वर्ल्ड में मशहूर पानीपत के व्यापारी सहमे सहमे और डरे हुए है। एक तरफ मंदी की मार दूसरी तरफ अफसरों का ख़ौफ़, खोफ भी ऐसा जिसके दिमाग मे आते ही रातो की नींद गायब हो जाये।सरकार को चलाने में अपनी भागेदारी देने वाले व्यापारी अपने आपको हर बार ठगा सा महसूस कर रहे है। ताजे मामले की बात करते है,जो आजकल सुर्खियों में है और वो ये कि डीटीपी विभाग के अधिकारियों पर आरोप लगे है कि रिश्वत न देने के चलते सनोली रोड़ पर शोरूम तोड़ने पहुँच गए। वहीं काबड़ी रोड़ वाला मामला भी अभी सुर्खियों में चल रहा है जहां व्यापारी को इतना भी समय नही दिया गया कि वो अपना सामान बाहर निकाल सके, और उसकी फेक्ट्री तोड़ दी गई। इस सारे घटनकर्म में एक नाम जो व्यापरियों के दिलो में ख़ौफ़ पैदा करता रहा है वो है विभाग के जेई मनिदर सिंह का। इस अधिकरि पर व्यापरियों को धमका कर पैसे ऐंठने का आरोप है। एक ऑडियो हमारे पास आई है जिसमें जेई मनिदर सिंहः व्यापारी को अपने तरीके से धमका रहा है।

बता दें कि ये ऑडियो कुछ दिनों पहले का है, और ये ऑडियो विधायक प्रमोद विज को भी सोपी गई है,व्यापरियों का कहना है कि ऐसी कई ऑडियो उनके पास है जिसमे भ्रष्टाचार की परतें खुल रही है।आज डरे ओर सहमे व्यपारी शहरी विधायक प्रमोद विज के दरबार मे पहुचे ओर एक सुर में अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।

जब प्रमोद विज के साथ व्यापरियों की मीटिंग चल रही थी इसी दौरान ब्यापारी गुरमीत दुआ की फैक्ट्री से फोन आया कि चांदनी बाग थाने से पुलिस उन्हें अरेस्ट करने आई है,उनका नाम सनोली रोड़ पर हुए हंगामे में आया है। इतना सुन व्यापारी और भड़क गए,उन्होंने प्रमोद विज के सामने ये बात रखी।

अब गेंद प्रमोद विज के पाले में है,विज साहब के आश्वासन के बाद व्यापारी थोड़े शांत हुए है,लेकिन उनके मन में अभी भी एक अजीब सा डर बैठा हुआ है।

विधायक प्रमोद विज से जब इस बारे में बात की गई तो विज साहब का कहना था कि वो खुद फेक्ट्री चलाते है और उन्हें पता है कि व्यापरियों की क्या समस्या है और इस बारे में वो सीएम से बात कर चुके है।

वहीं व्यापारी इस बात पर अड़े है कि अधिकारियों के खिलाफ मामले भी दर्ज हों और उनका यहां से ट्रांसफर भी हो जाये,लेकिन हैरानी की बात तो ये है कि अधिकारी के साथ हाथापाई करने के बाद व्यापरियों के खिलाफ तो मामला दर्ज हो गया लेकिन अभी तक व्यापारियों की शिकायत पर कोई भी कार्यवाही नही हुई,, ऐसे में बड़ा सवाल ये बनता है कि क्या ऐसे ही जनता लुटती रहेगी ओर अधिकरी मोज लेते रहेंगे।

VIDEO

TEAM VOICE OF PANIPAT……

Share: