वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
राहुल गांधी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद उनके पक्ष में कांग्रेस महिला प्रदेशाध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश करने वाली सुमित्रा चौहान ने कांग्रेस छोड़ दी। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सुमित्रा चौहान ने शनिवार को रोहतक में भाजपा ज्वाइन कर ली। सुमित्रा को प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने भाजपा ज्वाइन करवाई।


सुमित्रा चौहान को हरियाणा में महिला कांग्रेस की कमान 19 फरवरी 2014 को सौंपी गई थी। लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद राहुल गांधी से इस्तीफा वापस लिए जाने की मांग करते हुए सुमित्रा चौहान ने पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा सुष्मिता देव को इस्तीफा भेज दिया था। जिसमें कहा था कि सुमित्रा चौहान ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूरी मेहनत के साथ चुनाव लड़ा।


सुमित्रा चौहान के मुताबिक तीन तलाक का मुद्दा मुस्लिम महिलाओं के हित से जुड़ा था, लेकिन पार्टी इसका विरोध कर रही थी। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए को खत्म करना भी देशहित में उठाया गया कदम था, लेकिन कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व इसके विरोध में रहा। इससे आहत होकर वह पार्टी से इस्तीफा दे रही हैं।
TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: