वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

कोयले से चलने वाली इंडस्ट्री बंद होगी..प्रदूषण और गंदगी लेकर शहरवासियों के साथ हुई मीटिंग में डीसी हेमा शर्मा ने कहा कि बहुत जल्द कोयला का उपयोग शहर में बंद किया जाएगा..इसलिए, जितनी जल्दी हो सके, उद्यमी अपनी इंडस्ट्री को कोयला से पीएनजी में तब्दील कर लें…गैस सप्लाई करने वाली कंपनी के प्रतिनिधि ने बैठक में कहा कि सेक्टर-29 पार्ट-1 व 2, सेक्टर-25 पार्ट-1 व 2 के साथ ही ओल्ड इंडस्ट्रियल एरिया में पाइप बिछाई जा चुकी है..आवेदन के बाद 60 दिन में गैस की सप्लाई शुरू हो जाएगी..वहीं, सनौली रोड पर कुरार तक पाइप लाइन बिछाई जाएगी…ताकि इंडस्ट्री को गैस दी जा सके…


डीसी ने गंदगी को लेकर भी कड़े संदेश दिए…उन्होंने कहा कि उद्योग हो या घर, अगर गंदगी मिलती है तो उसके लिए वहीं जिम्मेदार होंगे, जिसके घर या इंडस्ट्री के सामने गंदगी होगी। इस बारे में डायर्स एसोसिएशन के प्रधान भीम राणा ने मीटिंग में कहा कि उद्योग का वेस्ट तो उद्यमी उठवा रहे हैं, लेकिन अन्य कबाड़ उठाने की जिम्मेदारी नगर निगम की है। लेकिन निगम अपना काम नहीं कर रहा है। इस पर प्रशासन ने कहा कि इंडस्ट्री के सामने अगर गंदगी मिली तो उद्यमी ही जिम्मेदार होंगे..इसका ओल्ड इंडस्ट्रियल एरिया के प्रधान विनोद ग्रोवर ने भी विरोध किया। इस बारे में भीम राणा ने कहा कि सांसद और विधायक के सामने यह मुद्दा उठाएंगे…


डीसी हेमा शर्मा ने कहा कि शहर में कहीं भी आग लग जाए या गंदगी का ढेर लगा हो तो इसकी सूचना नगर निगम के अधिकारी सुनील कुमार के मोबाइल नंबर 94167-33484 पर दें। निगम गंदगी उठाएगाा। डीसी ने कहा कि अगर यदि कोई नियमों की उलंघन करेगा तो उसके खिलाफ नगर निगम एक्ट की धारा-133 के अनुसार कड़ी कार्रवाई की जाएगी…

Share: