वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

प्रदेश में राज्यसभा की दो सीटों पर आम चुनाव के लिए यदि भाजपा की ओर से दो उम्मीदवार उतारे जाते तो क्रॉस वोटिंग हो सकती थी..क्योंकि अपने बेटे दीपेंद्र सिंह हुड्‌डा के लिए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा कांग्रेस के 31 विधायकों समेत 4-5 और विधायकों का समर्थन जुटा लिया था…खुद हुड्‌डा ने यह दावा किया है…


मंगलवार को चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए हुड्‌डा ने कहा कि इनेलो विधायक अभय चौटाला से उनकी बात हो चुकी थी..उनसे दीपेंद्र को आशीर्वाद देने को कहा था, जिस पर चौटाला ने उन्हें भरोसा दिलाया था कि वे दीपेंद्र को ही वोट देंगे…इसके अलावा तीन-चार और विधायक भी उनके साथ थे, जिनका शुक्रगुजार हूं..हालांकि उन्होंने अन्य किसी का नाम नहीं बताया..हुड्‌डा की बात में दम है तो राज्यसभा चुनाव के लिए वोटिंग होने पर हरियाणा में क्रॉस वोटिंग तय थी…हालांकि भाजपा ने आम चुनाव की दो सीटों पर एक ही उम्मीदवार उतारा…जबकि कांग्रेस ने दीपेंद्र को टिकट दी..ऐसे में दोनों का राज्यसभा जाना तय है…बीरेंद्र सिंह के इस्तीफा देने से एक सीट पर हो रहे उपचुनाव में भाजपा के पास बहुमत होने पर कांग्रेस ने किसी को अपना प्रत्याशी नहीं बनाया है…

पूर्व सीएम ने कहा कि कुमारी सैलजा उनकी छोटी बहन जैसी है और उनका भी दीपेंद्र को समर्थन है…पार्टी जिसे भी टिकट देती, वे उनका पूरा समर्थन करते…कहा, टिकट काटी नहीं जाती बल्कि पार्टी की ओर से दी जाती है..पूर्व मुख्यमंत्री हुड्‌डा ने प्रदेश के बजट को लेकर सरकार को घेरा..उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कर्ज लेकर घी पीने वाला काम कर रही है…इन्हें प्रदेश की चिंता नहीं है…दोनों पार्टियों के मैनिफेस्टो का अभी तक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम नहीं बना है…उन्होंने चुटकी ली कि इनका प्रोग्राम तो गाड़ी और कोठी लेने का है…जनता की कोई चिंता नहीं है..इनकी केवल यही चर्चा है कि किस विभाग में क्या चल रहा है…कौन किस कुर्सी पर बैठेगा…हुड्‌डा ने कहा कि प्रदेश के विकास पर करीब 14 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है…जबकि ये एक साल में 25 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्ज ले रहे हैं..कर्ज जितना भी विकास पर खर्च नहीं हो रहा..प्रदेश को कर्ज में डूबोया जा रहा है…सरकार ने 250 रुपए पेंशन बढ़ाकर बुजुर्गों का अपमान है

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: