वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

हरियाणा का साल 2020-21 का बजट मुख्यमंत्री मनोहर लाल पेश कर रहे हैं। बता दें कि बतौर वित्त मंत्री यह उनका पहला बजट है। सीएम मनोहर लाल सूटकेस की जगह टैब लेकर विधानसभा पहुंचे। ऐसा करके उन्होंने पुरानी चली आ रही प्रथा खत्म करने की पहल की है। पहले अटैची या थैला लेकर बजट पेश करने जाते थे। लेकिन टैब लाकर मनोहर लाल ने डिजिटल इंडिया के नारे को साकार है।

मनोहर लाल ने अपने भाषण में कहा कि 8वीं के लिए बोर्ड परीक्षा नए सत्र से शुरू होगी। मिडडे मील में एक दिन लड्डू, बेसन व पिन्नी व प्रतिदिन दूध मिलेगा। सभी स्कूलों में आरओ लगाए जाएंगे। विज्ञान प्रोत्साहक भर्ती किए जाएंगे। होस्टलों में एससी छात्रों के लिए 20 फीसदी सीटें आरक्षित रहेंगी। कॉलेज और यूनिवर्सिटी में 1.80 लाख आय वाले परिवारों की बेटियों को निशुल्क शिक्षा दी जाएगी। शिक्षा क्षेत्र को बजट का 15 प्रतिशत आवंटित किया गया है।

वहीं किसानों के लिए मोबाइल पशु चिकित्सा इकाइयां शुरू की जाएंगी। दुग्ध उत्पादकों की सब्सिडी 4 रुपये से बढ़ाकर 5 रुपये प्रति लीटर की जाएगी। प्रदेश में पहला सहकारी टेट्रा पैक सयंत्र स्थापित किया जाएगा। 4000 प्ले वे स्कूल खोले जाएंगे। 500 नए क्रेच कामकाजी महिलाओं के शिशुओं के लिए खोले जाएंगे। 98 खंडों में एक-एक नया मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खोले जाएंगे। विज्ञान विषय पढ़ने वालों को भी निशुल्क बस सुविधा दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि जिन प्रगतिशील किसानों ने फसल विविधीकरण को अपनाया है, उन्हें मास्टर ट्रेनर के रूप में चयनित किया जाएगा। इन मास्टर ट्रेनर को दूसरे किसानों को फसल विविधीकरण के सफलतापूर्वक प्रोत्साहन करने पर पुरस्कृत किया जाएगा। अल्प बजट प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देंगे। किन्नू, अमरूद व आम के बगीचे लगाने पर 20 हजार रुपये प्रति एकड़ अनुदान दिया जाएगा। हर ब्लॉक में पराली खरीद केंद्र बनाए जाएंगे।

वहीं हरियाणा की सभी सब्जी मंडियों में महिला किसान के लिए अलग से 10 प्रतिशत स्थान आरक्षित किए जाने की घोषणा की गई है। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए किसान कल्याण प्राधिकरण में विशेष महिला सेल की स्थापना की जाएगी। वहीं गोदाम में चोरी की समस्या को रोकने के लिए राज्य के भंडारण निगम हेफेड, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग इत्यादि के सभी गोदामों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। इस वर्ष 52 गोदामों में कैमरे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। शेष गोदामों को अगले चरणों में लिया जाएगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में सतत कृषि विकास पर जोर दिया गया है। 3 वर्ष में 100000 एकड़ क्षेत्र में जैविक एवं प्रकार की खेती का विस्तार किया जाएगा। इसके लिए उपयोग धनराशि का प्रावधान किया है। हरियाणा की सभी बड़ी मंडियों में क्रॉप ड्रायर लगाए जाएंगे, ताकि किसानों को फसल उत्पादन सुखाने में कोई परेशानी न आए। उनको फसलों का पूरा भाग बिना किसी कट के मिल सके।

TEAM VOICE OF PANIPAT….

 

 

Share: