वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

कोरोना वायरस से प्रदेश वासियों के बचाव के लिए सरकार द्वारा हर  मुमकिन कोशिश जारी है…. एक तरफ मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री खुद इस मामले की पूरी मॉनिटरिंग कर रहे हैं, वहीं मुख्य सचिव से लेकर महकमे के अधिकारी भी हर दिन नए-नए दिशा-निर्देश जारी कर रहे हैं….अब जेलों में बंदियों को इस वायरस से बचाने के लिए भी सरकार एक जरुरी निर्देश जारी करते हुए कैदियों का परिवार से सामान्य मुलाकात करना बंद करा दी है…

जेल डीजीपी ने प्रदेश के सभी जेल अधीक्षकों को एक पत्र जारी करके 18 से 31 मार्च तक कैदियों को  परिवार वालों से मुलाकात ना करने के आदेश जारी किए हैं… पत्र में यह भी कहा गया है कि जिन नए कैदियों की अभी तक पीआईसीएस सेवा शुरू नहीं हुई है, उनके परिजनों से केवल दो बार मिलवाया जा सकता है…. एक वक्त में अधिकतम दो लोग ही मुलाकात कर सकते हैं.. इसके अलावा पीजीआई रोहतक और बीपीएस खानपुर कलां में कोरोना वायरस की जांच की व्यवस्था की गई है… स्वास्थ्य विभाग के एसीएस राजीव अरोड़ा को इस मामले में नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया है.. वे सभी विभागों से कॉर्डिनेट करेंगे…

कोरोना वायरस को लेकर मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने मंडलायुक्तों, उपायुक्ताओं व अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंस की…उन्होंने प्रदेश में आमजन को बाजार से उचित मूल्यों पर दवाइयां, मास्क और सेनेटाइजर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए..

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सभी मुमकिन कदम उठाए जा रहे हैं…पॉलिटेक्निकल कॉलेज भी बंद किए गए हैं…

TEAM VOICE OF PANIPAT….

Share: