वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- डिजिटल युग में अब हरियाणा पुलिस भी आपको टैब पर काम करती नजर आएगी। जिलाें में इसकी प्रक्रिया शुरू करते हुए पासपोर्ट वेरिफिकेशन को अब पूरी तरह से ऑनलाइन पेपरलैस कर दिया गया है। इसके लिए रेवाड़ी जिले के 12 थानों एवं एसपी ऑफिस के नोडल ऑफिसर सहित 13 पुलिसकर्मियों को टैब उपलब्ध कराए गए हैं। टैब मिलने के बाद पुलिस की तरफ से पासपोर्ट के लिए की जाने वाली वेरिफिकेशन अब पूरी तरह से पेपरलैस हो गई है।

पासपोर्ट को वेरिफिकेशन को ऑनलाइन करने की प्रक्रिया 2 साल पहले शुरू की थी, जब हरियाणा को विदेश मंत्रालय की तरफ पासपोर्ट वेरिफिकेशन को तय समय में पूरा करने पर द्वितीय पुरस्कार दिया गया था। अब संबंधित बीट के पुलिसकर्मी को तीन दिन के अंदर यह वेरिफिकेशन पूरी करके सब्मिट करनी होगी। हालांकि पासपोर्ट कार्यालय की तरफ से वेरिफिकेशन का समय 21 दिन तय है। नए पासपोर्ट एवं रिन्यू के लिए आवेदन करने पर पहले पासपोर्ट कार्यालय की तरफ से संबंधित व्यक्ति की पुलिस वेरिफिकेशन की रिपोर्ट मेल से एसपी ऑफिस भेजी जाती थी। एसपी ऑफिस से रिपोर्ट संबंधित थानों को भेजी जाती थी, प्रक्रिया में 10-12 दिन लग जाते थे। नई व्यवस्था में पासपोर्ट कार्यालय से सीधे संबंधित थानों में रिपोर्ट पहुंच जाएगी।

नई व्यवस्था में प्रिंट की बजाय टैब पर पूरे डॉक्यूमेंट आ जाएंगे, जिसे ऑनलाइन पूरा करके सब्मिट करना होगा। रेवाड़ी में हर माह 400 से अधिक पासपोर्ट की वेरिफिकेशन आती हैं, जिससे हर माह लगभग दो से ढाई हजार ए-4 साइज पेपर की खपत होती थी। पूरे हरियाणा में यह संख्या लगभग 50 हजार पेपरों की है। इससे पेड़ भी कम कटेंगे। पुलिस वेरिफिकेशन के पश्चात थाना के पुलिसकर्मी को डाक लेकर प्रतिदिन एसपी ऑफिस जाना पड़ता था। टैब मिलने के बाद वेरिफिकेशन रिपोर्ट के लिए एसपी ऑफिस नहीं आना पड़ेगा। एसपी अभिषेक जोरवाल ने बताया कि रेवाड़ी के 12 थानों को ये टैब उपलब्ध करा दिए हैं। एम-पासपोर्ट सुविधा पेपरलैस हो गई है। हर माह में पेपर खर्च होने से बचेंगे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: