वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग की तरफ से शारीरिक शिक्षकों के चयन के लिए आयोजित परीक्षा में नकल करवाने का प्रयास करने के आरोप में पुलिस ने चार परीक्षार्थियों सहित 5 आरोपी गिरफ्तार किए हैं। इनमें दनौदा कलां वासी मंदीप जैमर ऑपरेटर कार्ड के साथ पकड़ा गया है। इस मामले में जहाजपुल स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के पर्यवेक्षक की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस ने मंदीप के अलावा 4 परीक्षार्थी खांडाखेड़ी वासी विक्रम, नारनौंद वासी भूपेंद्र, हिसार के पटेल नगर वासी सुनीता, बड़छप्पर वासी युद्धवीर को गिरफ्तार किया है।

पर्यवेक्षक ने शक होने पर पुलिस कर्मियों की सहायता से मंदीप को पकड़कर तलाशी ली थी। इस दौरान उसके पास से जैमर ऑपरेटर कार्ड बरामद किया था। हालांकि वह नकल करवाने में सफल नहीं हो सका। मंदीप से पूछताछ में बाकी आरोपियों की संलिप्तता का खुलासा हुआ तो उन्हें भी काबू कर लिया। पूछताछ में आरोपी मंदीप ने खुलासा किया कि लितानी वासी रोहताश, खांडाखेड़ी वासी कपिल के साथ मिलकर सौदेबाजी हुई थी। परीक्षार्थियों को नकल करवाने के लिए 8-8 लाख रुपए में सौदा हुआ था। मंदीप ने परीक्षार्थी सुनीता को नकल करानी थी, लेकिन कामयाब नहीं हो पाया। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन ओर से रविवार को आयोजित पीटीआई परीक्षा में 9294 में 7485 अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। परीक्षा शांतिपूर्ण रही। जबकि बर्खास्त किए जाने पर परीक्षा का विरोध कर रही बर्खास्त पीटीआई की शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति का दावा है कि इनमें से परीक्षा देने केवल 120 अभ्यर्थी पहुंचे हैं। कुल 1983 पीटीआई की 2006 में शुरू हुई पीटीआई की भर्ती 2010 में पूरी हुई थी। इनमें 38 का निधन हो चुका है। कुछ रिटायर भी हो गए हैं। समिति का दावा है कि बाकी कोई परीक्षा देने नहीं गया। एचएसएससी के चेयरमैन भारत भूषण भारती ने बताया कि 9294 अभ्यर्थियों में पांच जिलों में 7485 अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: