वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)

पानीपत जिले के नारा गांव के युवक विकास की पीट-पीटकर जींद के खेड़ाखेमावती गांव में 2 दिन पहले हत्या की गई थी। इसी को लेकर मंगलवार को ग्रामीणों ने कई घंटे तक सफीदों सदर थाने का घेराव किया। इसके बाद भी जब हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो ग्रामीणों ने खानसर चौक पर सफीदों-पानीपत मार्ग पर जाम लगा दिया। ग्रामीणों का कहना था कि वे तब तक मृतक का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे जब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता।

जींद में काफी देर तक लगे जाम के बाद एएसपी अजित सिंह शेखावत मौके पर पहुंचे। उन्होंने मृतक के परिजनों व ग्रामीणों को बताया कि पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर लिया है और इस मामले में 5 लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनसे पूछताछ की जारी है। पुलिस सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी। इसके बाद ही ग्रामीण शांत हुए और जाम खोलने को तैयार हुए। जाम के कारण कस्बे के अनेक लोगों व वाहन चालकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। विकास के परिजनों को रो रोकर बुरा हाल है।  विकास अपने पिता का इकलौता बेटा था।

मंगलवार सुबह मृतक विकास का शव लेकर अनेक ट्रैक्टर-ट्राॅलियों में सवार होकर ग्रामीण सदर थाना सफीदों पहुंचे। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस पर मामले में कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना था कि काफी समय बीत जाने के बाद भी पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया है। ग्रामीणों का कहना था कि सभी आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए। ग्रामीणों का कहना था कि जब तक सभी आरोपी गिरफ्तार नहीं हो जाते तब तक युवक के शव का संस्कार नहीं करेंगे।

ग्रामीणों ने सदर थाना के बाहर सफीदों-जींद हाईवे को भी करीब आधा घंटा तक जाम कर दिया। थाना की घेराबंदी की सूचना मिलने पर एएसपी अजीत सिंह शेखावत, शहर थाना प्रभारी देवी लाल, सदर थाना प्रभारी धर्मबीर, डीएसपी ट्रैफिक जींद चंद्रपाल बिश्नोई मौके पर पहुंचे। पुलिस कर्मियों को इस दौरान थाने का प्रमुख गेट बंद करना पड़ा। पुलिस ने ग्रामीणों से 2 घंटे का समय मांगा। करीब 2 घंटे बीत जाने के बाद ग्रामीण फिर से उग्र हो गए और वे सीधा नगर के खानसर चौक पहुंचे और पानीपत-सफीदों हाईवे को ट्रैक्टर-ट्रॉली खड़ी कर जाम कर दिया

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: