वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी ने स्नातक व स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं करवाने को लेकर अधिसूचना जारी कर दी। केयू और इससे संबंधित कॉलेजों के विद्यार्थियों की परीक्षाएं ऑनलाइन व ऑफलाइन मोड को मिलाकर ली जाएंगी। स्नातक की परीक्षाएं 10 सितंबर से शुरू होंगी, वहीं स्नातकोत्तर की परीक्षाएं 15 सितंबर से होंगी। दोनों कक्षाओं की परीक्षा 30 सितंबर तक खत्म करवाई जाएंगी।

केयू परीक्षा शाखा नियंत्रक डॉ. हुकम सिंह ने बताया कि विद्यार्थियों को 50 प्रतिशत प्रश्नों के जवाब देने होंगे। परीक्षार्थियों को अपने उत्तर अधिकतम 20 ए फॉर साइज के पृष्ठों में लिखने होंगे और प्रश्नपत्र डाउनलोड करना, प्रश्नों के उत्तर लिखना और उसको पीडीएफ बनाकर अपलोड करने के लिए तीन घंटे का समय दिया जाएगा। प्रेक्टिकल की परीक्षा काॅलेज, संस्थान व विभाग स्तर पर ही ली जाएगी। डॉ. सिंह ने बताया कि परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्र डाउनलोड करके परीक्षा संबंधी विवरण व रोल नंबर लिखना होगा। परीक्षार्थी ए-4 साइज पेपर पर प्रश्नों के उत्तर स्वयं लिखेगा। इसके बाद स्कैन करके उसकी पीडीएफ फाइल बनाकर संबंधित विभाग, संस्थान व काॅलेज की ईमेल पर भेजेगा। कोई भी परीक्षार्थी अपना मोबाइल नंबर या अन्य कोई सूचना उत्तर पुस्तिका में नहीं देगा।इसके लिए डेटशीट बुधवार को जारी की जाएगी।

केयू ने प्रदेश सरकार की ओर से 11 अगस्त को आई अधिसूचना के आधार पर यह निर्णय लिया। कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी ने पूरे प्रदेश में पहल करते हुए सभी यूजी/पीजी टर्मिनल सेमेस्टर/वर्ष के नियमित, दूरवर्ती पाठ्यक्रमों और प्राइवेट विद्यार्थियों की परीक्षाएं, कानून विषयों को छोड़कर करवाने का फैसला लिया है। केयू और इससे संबंधित प्रदेशभर के कॉलेजों के अंतिम सेमेस्टर और अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की संख्या 1.25 लाख है।केयू की कार्यवाहक कुलपति डॉ. नीता खन्ना ने बताया कि कोविड-19 के चलते विद्यार्थियों की परीक्षाएं करवाने का सुरक्षित तरीका प्रशासन की ओर से निकाला गया है। उन्होंने बताया कि विद्यार्थियों को परीक्षा देने के लिए कहीं बाहर नहीं निकलना होगा। डॉ. खन्ना ने कहा कि इस प्रक्रिया के तहत परीक्षा का परिणाम भी परीक्षाएं खत्म होने के बाद जल्द ही घोषित हो पाएगा। ताकि आगे दाखिला प्रक्रिया प्रभावित न हो।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: