वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा):- प्रदेशभर में कुछ लोग बार-बार कोरोना की जांच करवाने से बाज नहीं आ रहे हैं। इस तरह के मामले गुड़गांव में ज्यादा हैं। ऐसे में अब स्वास्थ्य विभाग इस पर सख्त हो गया है। यदि कोई मरीज एक बार से अधिक जांच करवाता है तो उसके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। सिविल सर्जन ने यह निर्देश दिए हैं। 

स्वास्थ्य विभाग ने अब ऐसे मरीजों की सूची तैयार करनी शुरू कर दी है, जो बार-बार जांच करवा रहे हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च की नई गाइडलाइन के अनुसार संक्रमित मरीज के स्वस्थ होने पर उसकी दोबारा जांच करवाने की जरुरत नहीं है। बार-बार जांच करवाने से स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ कोरोना जांच लैब पर काम का दबाव बढ़ गया है। 

गुड़गांव के सिविल सर्जन वीरेंद्र यादव का कहना है कि कुछ लोग बार-बार जांच करवा रहे हैं। इससे संसाधनों और समय की बर्बादी हो रही है। ऐसे लोग खुद की संतुष्टि के लिए बार-बार जांच करवा रहे हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: