वॉइस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा ) : मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत किसानों के बैंक खातों में जल्द 2000 रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से पहली किस्त जमा कर दी जाएगी। पहली किस्त के रूप में सरकार की ओर से कुल 10.21 करोड़ दिए जाएंगे। यह राशि राज्य के 17 जिलों में खरीफ-2020 के दौरान फसल विविधिकरण योजना के अनुसार धान को छोड़कर कपास की फसल की बुआई करने वाले किसानों को दी जाएगी।

कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने बताया कि किसानों को पहली किस्त का भुगतान किया जाएगा। सिरसा, फतेहाबाद, जींद, हिसार, कैथल, झज्जर, भिवानी, चरखी दादरी, सोनीपत, रोहतक, फरीदाबाद, पलवल, रेवाड़ी, मेवात, गुड़गांव, पानीपत व करनाल जिला में कुल 20420 हेक्टेयर में धान को छोड़कर कपास की बुआई की है।

सीएम बोले- सुशासन का रास्ता ई-गर्वनेंस से आता है
सीएम मनोहर लाल ने कहा कि जनता को सुशासन देना वर्तमान राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। वर्ष 2016 में मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम एक फ्लैगशिप प्रोग्राम शुरू किया गया। मंगलवार को मुख्यमंत्री ने सुशासन सहयोगी के 5वें बैच को संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सुशासन का रास्ता ई-गवर्नेंस के माध्यम से ही आता है, इसलिए सरकारी योजनाओं का लाभ सीधे पात्र व्यक्ति तक पहुंचाना है। सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने कहा कि इस बार 2500 से अधिक आवेदन आए थे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: