वायस ऑफ पानीपत (देेवेंद्र शर्मा)

यमुना एनक्लेव निवासी सुखदेव नगर सोसायटी के सरपस्त प्रॉपर्टी डीलर 52 वर्षीय नरेश शर्मा की हत्या के आरोपित देव नगर के पुलकित मदान, चंदौली के चेतन शर्मा और सुनील उर्फ नीति को सीआइए-टू ने दो दिन की रिमांड के बाद अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया..सीआइए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि रिमांड के दौरान आरोपितों से वारदात में इस्तेमाल में दो कार, बाइक व लूटी गई नकदी और सोने की चेन बरामद की जा चुकी है…

2018 में पुलकित मदान ने प्रॉपर्टी डीलर नरेश शर्मा से 15 लाख रुपये ब्याज पर लिए थे..इनमें से पुलकित आठ लाख रुपये लौटा चुका था.. नरेश शर्मा सात लाख रुपये देने के लिए दबाव डाल रहे थे…इसी वजह से पुलकित ने अपने पार्टनर चेतन के साथ मिलकर नरेश की हत्या की साजिश रची…

चेतन ने एक लाख रुपये का झांसा देकर गांव के सुनील को भी साजिश में शामिल किया है…छह फरवरी की रात को स्काईलार्क के पास नरेश शर्मा को अपने 13-17 के कार्यालय में रुपये लौटाने का झांसा देकर पुलकित और चेतन उसी की कार में बैठ लिए..सुनील नरेश की रेकी करके कार्यालय पहुंच गया..वहां पर तीनों ने नरेश की गला घोंटकर हत्या कर सोने की चेन व 60 हजार रुपये लूटे..शव को करनाल के बुढ़नपुर गांव स्थित आवर्धन नहर में डाल दिया..12 फरवरी को सोनीपत के कासंडी गांव के पास नहर से नरेश शर्मा के शव को बरामद किया…

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: