Breaking News

नहर में कूदने से पहले युवती ने परिवार वालो को किया फोन, कहा- अगर बचाना है तो बचा लो

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
एक युवती ने सिरसा ब्रांच नहर में कूदकर जान दे दी। युवती ने आत्महत्या करने से पहले मां, पिता और चाचा को कॉल करके नहर में कूदने के बारे में बता दिया था..परिजनों के पहुंचने पर वहां स्कूटी खड़ी मिली। ग्रामीणों की मदद से शव को बाहर निकाला गया। फिलहाल पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।
सदर थाना पुलिस के अनुसार भगतसिंह कालोनी निवासी सुरेश ने बताया कि दोपहर ढाई बजे उसकी 18 वर्षीय बेटी आरती घर से बिना बताए स्कूटी लेकर चली गई थी और वह सिरसा ब्रांच नहर पर पहुंच गई। वहां से आरती ने मम्मी, उसे और अन्य रिश्तेदारों को कॉल किया।


आरती ने कॉल करके बताया कि वह नहर में कूदने में जा रही है, अगर बचाना है, तो आकर बचा लो। इसके बाद वह नहर में कूद गई। वह अन्य व्यक्तियों को लेकर नहर पर पहुंचा, तो देखा कि जींद रोड के पास सिरसा ब्रांच नहर के किनारे उसकी स्कूटी खड़ी हुई है, लेकिन आरती वहां पर नहीं थी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।


गांव डोहानखेड़ा में खिलाड़ी नहर में नहा रहे थे, तो उनके पैरों पर कुछ चीज टकराने का आभास हुआ। इसके बाद उन्होंने नहर की तलहटी में जाकर देखा, तो लड़की का शव था। इसके बाद लड़की को बाहर निकाला और पुलिस को इस बारे में सूचित किया। शव की पहचान आरती के रूप में हुई।
आरती के पिता सुरेश ने बताया कि उसकी बेटी आरती 12वीं के बाद कोचिंग जाती थी। वह कई दिन से दिमागी रूप से परेशान थी। आरती ने कभी नहीं बताया कि वह किस कारण से परेशानी में हैं
TEAM VOICE OF PANIPAT

leave a reply