वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
सीआईए-टू पुलिस टीम ने देर रात मुठभेड़ के बाद स्नेचिंग की वारदात कों अंजाम देने वाले दो बदमाशों को काबु करने मे बड़ी कामयाबी हासिल की। मुठभेड़ के दोरान एक आरोपी के पैर मे गोली लगी जिसके बाद उसे उपचार के लिए पानीपत सिविल अस्पताल मे भर्ती करवाया गया…
आरोपियों के कब्जे से एक देसी पिस्तौल 315 बौर, दो जिंदा रोंद व एक देसी पिस्तौल 12 बौर, एक जिंदा रौंद व एक बगैर नंबर प्लेट लगी स्पलेंडर बाईक भी बरामद हुई..
आरोपियों की पहचान कपिल उर्फ आशु निवासी हकीमपुरा मुज्जफरनगर यूपी व आकाश निवासी खेकड़ा बागपत यूपी के रूप मे हुई…प्रारंम्भिक पुलिस पुछताछ मे आरोपियों ने पानीपत,करनाल व यूपी मे स्नेचिंग, लूट की दर्जनों वारदातों को अंजाम देने बारे स्वीकारा..इसके अतिरिक्त जांच उपरांत आरोपी कपिल का पहले भी अपराधिक रिकार्ड होना पाया गया है। आरोपी के खिलाफ जानलेवा हमला, महिला विरूध अपराध व बाईक चोरी की वारदात के कुल नो मुकदमें हरिद्वार, मुज्जफरनगर व रूड़की मे दर्ज है। आरोपी दो वर्ष हरिद्वार जेल मे रहने के बाद वर्ष 2018 मे जेल से बाहर आया था।


पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने आज लघु सचिवालय के तृतीय तल पर स्थित पुलिस विभाग के सभागार मे प्रेसवार्ता कर प्रकरण की जानकारी देते हुए बताया की रविवार देर रात सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने अपने स्टाफ से एएसआई अशोक कुमार के नेतत्व मे एक टीम का गठन कर गश्त के लिए सनोली थाना क्षेत्र के अंतर्गत भेजा हुआ था। टीम रात करीब 2:00 बजें गांव नवादा पार के पास मौजूद थी। इसी दोरान टीम को गुप्त सूचना मिली की जलालपुर से पत्थरगढ़ की और जाने वाले कच्चे रास्ते पर टी प्वाईट के पास बाइक सवार संद्विगध किस्म के दो युवक किसी अपराधिक वारदात को अंजाम देने की फिराक मे घूम रहे है। जो युवकों के पास अवैध हथियार होने की संभावना है। इस विशेष सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने आरोपियों की धरपकड़ के लिए गाड़ी पर लगी बत्ती को बंद कर मौके पर पहुची तो सामने खड़े बाइक सवार युवकों ने पुलिस की गाड़ी को आता देख बाइक स्टार्ट कर पत्थरगढ यमुना बन्धे की तरफ भागने लगे।


पुलिस टीम ने आरोपियों को काबु करने के लिए गाड़ी से पीछा किया तो बाइक पर पीछे बैठे आरोपी ने पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से पिस्तौल से फायर किया। इसी दोरान टीम ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दे सनोली व बापोली पुलिस द्वारा नाका बंदी करने की विटी करवाई। सीआईए-टू पुलिस टीम ने पीछा करते हुए आरोपियो को वारनिंग दी तो आरोपियों ने दोबारा से पुलिस टीम पर पिस्तौल से फायर करने आरंम्भ कर दिये। वही पुलिस टीम ने अपना बचाव व जवाबी कार्यवाही करते हुए सर्विस रिवाल्वर से हवाई फायर किये.. इसी दोरान दोनों आरोपी बाइक से नीचे गिर गए और पैदल भागने लगे। पुलिस टीम ने अपनी गाड़ी रोककर आरोपियों को दोबारा से चेतावनी दी तो आरोपियों ने भागते हुए पुलिस टीम की तरफ एक रौंद फायर किया जो गोली सरकारी गाड़ी मे लगी। आरापियों को काबु करने के लिए पुलिस टीम ने बल का प्रयोग करते हुए आरोपियों के पेरों की तरफ रिवाल्वर से दो रौंद फायर किये। जो इनमे से एक गोली एक आरोपी के पेर मे लगते ही वह जमीन पर गिर गया व दूसरा आरोपी पिस्तौल को जमीन पर रख हाथ उपर की तरफ करके वही खड़ा हो गया। पुलिस टीम मे दोनों आरोपियों को मोके पर ही काबु करने मे बड़ी कामयाबी हासिल की। पुलिस पुछताछ मे आरोपियों ने अपनी पहचान कपिल उर्फ आशु पुत्र बाबुराम निवासी हकिमपुरा मुज्जफरनगर यूपी, आकाश पुत्र रमेश निवासी खेकडा ददवाडियां बागपत यूपी के रूप मे हुई। मुठभेड़ के दौरान आरोपी कपिल के पैर मे एक गौली लगी जिसको इलाज के लिए सिविल अस्पताल पानीपत मे भर्ती करवाया गया।


पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार ने बताया कि मुठभेड़ मे आरोपियों ने पुलिस टीम पर 4 रौंद फायर करते हुए भागने का प्रयास किया। वही पुलिस टीम ने बचाव व जवाबी कार्यवाही करते हुए आरोपियों पर अपनी सर्विस रिवाल्वर से 9 रौंद फायर करते हुए दोनों आरोपियों को काबु करने मे बड़ी कामयाबी हासिल की। मौके पर आरोपी कपिल उर्फ आशु के कब्जे से एक देशी पिस्तौल 315 बौर, दो जिंदा रौंद बरामद व आरोपी आकाश से एक देशी पिस्तौल 12 बौर, एक रौंद एक बगैर नंबर प्लेट लगी स्पलेंडर बाइक बरामद हुई।
आरोपियों के खिलाफ थाना सनोली मे भा.द.स की धारा 307,34 व आम्र्स एक्ट 25-54-59 के तहत मुकमदमा दर्ज कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपियों ने पानीपत, करनाल व यूपी मे स्नेचिंग की दर्जनों वारदातों को अंजाम देने बारे स्वीकारा। जिनमे जिला पानीपत के थाना सनोली व समालखा क्षेत्र के अंतर्गत स्नेचिंग की दो वारदात भी शामिल हे।


इसके अतिरिक्त आरोपी कपिल उर्फ आशु का पहले भी अपराधिक रिकार्ड होना पाया गया है। आरोपी के खिलाफ जानलवा हमला, महिला विरूध अपराध व बाईक चोरी की वारदात के कुल नो मुकदमें हरिद्वार, मुज्जफरनगर व रूड़की मे दर्ज है। वही आरोपी आकाश का रिकार्ड अभी खंगाला जा रहा है।
गहनता से पुछताछ करने के लिए आरोपियों को आज माननीय न्यायालय मे पेश कर दिन के पुलिस रिमांड लिया गया..
आरोपियों से पानीपत जिला की स्नेचिंग की इन वारदातों का खुलासा हुआ
1. आरोपियों ने 27 जूलाई 2019 की देर साय पिस्तौल के बल पर गांव छाजपुर खुर्द मे शराब के ठेके पर सैल्समैन से 6/7 हजार रूपये लूटने की वारदात को अंजाम दिया। वारदात के बारे में थाना सनोली मे सैल्समैन शिवकुमार निवासी नारायणा की शिकायत पर भा.द.स की धारा 379बी,34 के तहत मुकदमा नंबर 122/19 दर्ज है।
2. आरोपियों ने 4 सिंतबर 2019 को दिन के समय जोरासी से समालखा रोड़ पर बाइक सवार जोरासी निवासी राहुल व उसके दादा रामफूल के हाथ से थेला छिनने की वारदात को अजाम दिया। थैले मे 50 हजार की नकदी व बैक की एक पास बुक थी। इस वारदात के बारे में राहुल की शिकायत पर थाना समालखा मे भा.द.स की धारा 379बी,34 के तहत मुकदमा नंबर 569/19 दर्ज है।
TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: