वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
महिला डॉक्टर ने तेज रफ्तार बैलेनो कार से दो मासूम बच्चियों को कुचल दिया। कार का पहिया ऊपर से गुजरने के कारण ढाई साल की बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसकी 12 साल की मौसी को आरोपी डॉक्टर बोनट पर डालकर करीब 20 फीट तक घसीटते हुए ले गई। उसे गंभीर चोटें आईं हैं। ये हादसा पानीपत के विकास नगर में एनएफएल टाउनशिप के पीछे वाले गेट के पास हुआ…कार का नंबर HR06AL7868 है। कार की आरसी महिला अनू के नाम से है।


आरोपी महिला विकास नगर में रहती है..सेक्टर-29 थाना पुलिस ने कार जब्त कर ली है। बच्ची के नाना ने अज्ञात कार ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कराया है। घटनास्थल के पास एक घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में हादसा कैद हो गया। इसमें दिख रहा है कि हादसे के बाद महिला कार से उतरकर बाहर भी आई। किसी ट्रैक्टर वाले ने कार की चाबी निकाल ली। महिला की कार से ही बच्चियों को अस्पताल पहुंचाया गया। लेकिन एक बच्ची की मौत हो चुकी थी। इसी दौरान अस्पताल से महिला डॉक्टर फरार हो गई।


बिहार के सीवान जिले की सुमित्रा अपने बच्चो के साथ पिता गणेश प्रसाद के घर विकास नगर में रहती है। सुमित्रा के चाचा प्रदीप भी पड़ोस में रहते हैं। प्रदीप की 12 वर्षीय बेटी रानी सब्जी लेने जा रही थी। वह सुमित्रा की ढाई साल की बेटी तनूजा को साथ ले गई। रानी ने बताया कि सब्जी लेकर लौट रही थे, तभी तनूजा बोली कि मुंह में बाल चला गया। वह सड़क किनारे कच्चे रास्ते पर बैठकर तनूजा के मुंह से बाल निकालने लगी। करीब 30 सेकंड बाद ही तेज गति में आ रही कार ने दोनो को कुचल दिया..


TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: