पहले आई कॉल, फिर तीन घंटे तक उलझा कर रखा बातो में..और निकाल लिए क्रेडिट कार्ड से ऐसे पैसे

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
साइबर ठग के चक्कर में आए दिन कोई न कोई जाल में फंस रहा है। कभी ऑफर का झांसा देकर तो कभी लकी ड्रॉ के नाम पर ठगी को अंजाम दिया जा रहा। अब तो साइबर ठगों ने वॉलेट एप को जरिया बना लिया है। खाते से रुपये सीधे वॉलेट और फिर खाते में ट्रांसफर करके ठगी को अंजाम दे रहे हैं। एक ऐसा ही मामला सामने आया है। पानीपत के रहने वाले सेल्समैन को रिवार्ड प्वाइंट का झांसा देकर ठग लिया।


रसलापुर गांव के ओमप्रकाश से साइबर ठगों ने ठगी की वारदात को अंजाम दिया। ओम प्रकाश गंगापुरी रोड स्थित सैमसंग मोबाइल डिस्ट्रिब्यूटर कार्यालय में सेल्समैन है। दोपहर 12 बजे उसके पास कॉल आया। कॉल करने वाले ने खुद को स्टेट बैंक का मैनेजर बताया। उसने कहा, क्रेडिट कार्ड के रिवार्ड प्वाइंट 7000 हो गए हैं। अपना क्रेडिट नंबर बता दे, ताकि वे खाते में सात हजार रुपये जोड़ सकें।


आरोपित ने तीन घंटे तक बातों में उलझा कर रखा। आरोपित पांच मिनट बात करता और फिर आधे घंटे तक कॉल होल्ड कर लेता। उसने क्रेडिट कार्ड का नंबर बता दिया। इसके बाद धोखे से उसके कार्ड से 51009, 52999, 9700 और 4850 रुपये निकाल लिए गये। ये रुपये किसी दूसरे के खाते में ट्रांसफर किए गये हैं।
ओम प्रकाश के क्रेडिट कार्ड की लिमिट 1.62 लाख रुपये है। उसने 47000 रुपये की खरीदारी कर ली थी। कार्ड में राशि माइनस में चली गई। उसने हेल्प लाइन नंबर पर कॉल कर कार्ड को बंद कराया। बैंक ने आश्वासन दिया है कि उसके रुपये दिलाए जाएंगे। थाना चांदनी बाग पुलिस ने मामला दर्ज करके ठग की तलाश शुरू कर दी है।
TEAM VOICE OF PANIPAT

leave a reply

Voice Of Panipat

Voice Of Panipat