वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
सीआईए-टू पुलिस ने सनोली थाना के नवादा आर गांव मे विगत दिनो हुई सुंदर निवासी नवादा आर की हत्या की वारदात का पर्दाफाश करते हुए दो आरोपियों को काबू करने में कामयाबी हासिल की..आरोपियों की पहचान विनोद व हाशिम निवासी नवादा आर के रूप मे हुई…आरोपियों ने पैसे लूटने के लिए वारदात को अंजाम दिया…गहनता से पूछताछ करने के लिए गिरफतार दोनों आरोपियों को आज माननीय न्यायालय में पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया…
सीआईए-टू प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि कृष्ण निवासी नवादा आर ने 29 जनवरी को थाना सनोली मे फोन कर सूचना दी की उसके बड़े भाई सुंदर की हत्या हो गई है जो शव गली मे पड़ा हुआ है। सूचना पाकर थाना सनोली पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल पानीपत मे रखवाया। पुलिस को दी शिकायत मे कृष्ण ने बताया था की वह मेहनत मजदूरी का काम करता है 28 जनवरी की साय करीब 5 बजै शीला व श्रवण ने शराब के नशे मे उसके साथ कहासुनी करने के बाद जान से मारने की धमकी दी थी। उसने घर पहुंचकर सारी बात अपने बड़े भाई सुंदर को बताई तो सुंदर साय करीब आठ बजे शीला व श्रवण को समझाने की बात बोलकर घर से गया था जो देर रात तक वापिस नही आया। उसको सुबह सूचना मिली की उसके भाई सुंदर का शव इन्द्र के मकान के सामने गली मे पड़ा हुआ है..कृष्ण ने बताया की उसे शक है कि शीला व श्रवण ने उसके भाई की हत्या की है। इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि कृष्ण कि शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ भा.द.स की धारा  323,506,302,404,201,34 के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही अमल मे लाई गई थी।
इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार के संज्ञान मे यह मामला आते ही उन्होंने मामले की जांच व आरोपियों को जल्द से जल्द काबू करने की जिम्मेवारी सीआईए-टू पुलिस टीम को सोपी। सीआईए-टू मे तैनात सब इंस्पेक्टर जयबीर ने वारदात मे नामजद दोनो आरोपित शीला व श्रवण को काबु कर गहनता से पुछताछ करने के साथ-साथ अन्य पहलूओं पर गहनता से जांच की तो जांच मे सामने आया की वारदात को अंजाम देने मे आरोपित शीला व श्रवण ना होकर आरोपी विनोद व हाशिम निवासी नवादा आर है।
इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि आरोपी विनोद व हाशिम को काबू करने के लिए सीआईए-टू की टीम आरोपियों के संभावित ठिकानों पर लगातार दंबिस दे रही थी। टीम ने शुक्रवार साय गुप्त सूचना के आधार पर आरोपी विनोद व हाशिम को अनाज मंडी नजदीक वेयरहाउस के पास से काबु करने मे कामयाबी हासिल की। गहनता से पूछताछ करने पर गिरफतार दोनों आरोपियों ने  सुदंर की हत्या करने की वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। आरोपियों से की गई प्रारंभिक पुलिस पूछताछ में सामने खुलासा हुआ की सुंदर देर साय अकेला गली से गुजर रहा था उन्होंने सुंदर से पैसे छिनने की कोशिश की तो सुंदर बचाव करने लगा। इसी दौरान हाशिम ने सुंदर से उसका डंडा छिनकर व विनोद ने पास मे पड़ी ईट उठाकर सुंदर के सिर पर वार किये सुंदर जमीन पर गिर गया और दोनो उसकी जेब से करीब दो हजार रुपये निकालकर मोके से फरार हो गए थे। इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि गहनता से पूछताछ करने के लिए गिरफ्तार दोनो आरोपियों को आज माननीय न्यायालय में पेश कर एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया…
TEAM VOICE OF PANIPAT
Share: