Breaking News

तेज रफ्तार के कहर ने ली जान..तेजी से आ रही कार की पिकअप और कैंटर से टक्कर के बाद हुआ हादसा

वायस ऑफ पानीपत (देवेंद्र शर्मा)
तेज रफ्तार के कहर ने एक बार फिर देखने को मिला..दरअसल एलिवेटेड हाईवे पर रोड़ धर्मशाला के सामने श्याम बाग बैंक्वेट हॉल के मालिक के बेटे सुनील कुमार की तेज रफ्तार कार दुर्घटनाग्रस्त होने से मौत हो गई..गाड़ी की स्पीड इतनी थी कि दूसरी लेन से आ रही पिकअप और एक कैंटर से टकराकर लोहे के ग्रिल से जा टकराई..हादसा इतना भयानक था कि कार का स्टेयरिंग धंसने से सुनील की छाती की हड्डियां टूट गईं। वहीं ओवरब्रिज पर दोनों ओर 20 मिनट तक जाम लग गया..


सेक्टर-25 स्थित गार्गी वूलन मिल मालिक सुनील कुमार शुक्रवार दोपहर को स्विफ्ट डिजायर कार में सेक्टर 13-17 स्थित घर जा रहे थे। हादसा होते ही ओवरब्रिज पर दोनों ओर काफी संख्या में वाहन खड़े हो गए। राहगीरों ने किसी तरह क्षतिग्रस्त कार से घायल सुनील को बाहर निकाला। हादसे की सूचना पुलिस और एंबुलेंस कंट्रोल रूम में दी गई, लेकिन ओवरब्रिज पर जाम लगा होने के कारण काफी देर तक एलएंडटी और सामान्य अस्पताल की एंबुलेंस घटनास्थल पर नहीं पहुंच पाई..कुछ ही देर में सुनील ने दम तोड़ दिया।
राहगीरों के मुताबिक सुनील के शरीर के लगभग सभी हिस्सों पर चोट लगी हुई थी। छाती में स्टेयिरिंग धंसने के कारण उसके मुंह से खून बह रहा था। सिर, ठोड़ी, हाथ पर भी काफी चोटें आई थी। सीट और पैडल्स के बीच में फंसने के कारण दाहिना पैर भी टूट गया था। वह कुछ देर तक तड़पते रहे, लेकिन प्राथमिक उपचार मिलने से पहले ही उसकी सांसें थम गईं..


अनुमान है कि कार की रफ्तार लगभग 150 किलोमीटर प्रतिघंटा के आस-पास थी..पीछे आ रहे कैंटर से टकराने के बाद कार ग्रिल के पास जा गिरी…खुद के होश संभले तो तेजी से पिकअप से उतरकर कार के पास पहुंचा तो उसमें युवक तड़प रहा था..
हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी..फिलहाल कार की रफ्तार की पुष्टि नहीं हो पाई है..मामले की जांच की जा रही है..अभी किसी वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज नहीं किया गया है..
TEAM VOICE OF PANIPAT

leave a reply