वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह)

डीसी हेमा शर्मा ने कोरोना महामारी के दृष्टिगत आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 34 के तहत जिला की परिधि में प्रत्येक व्यक्ति के लिए मास्क, रूमाल, घर में बने मास्क को हर समय घर से बाहर जाने पर पहनना जरूरी होगा। किसी भी व्यक्ति के बिना मास्क इत्यादि ना पहनकर बाहर आने-जाने के लिए पाबंदी लगाई गई है। प्रत्येक व्यक्ति को अपने वाहन में भी मास्क, रूमाल, घर में बने मास्क को  पहनना अनिवार्य होगा। प्रत्येक अस्पताल, बाजार, साईट, कार्यालय और काम करने के स्थान इत्यादि पर उक्त पहनना  अनिवार्य होगा और इसे सम्बन्धित प्रबंधन या विभागाध्यक्ष को सुनिश्चित करना आवश्यक होगा। अगर कोई भी उक्त आदेशों की अवहेलना करता पाया गया तो उस पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269 और 270 व आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

सिविल सर्जन डॉ0 संतलाल वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस से सम्बन्धित रोगियों की स्क्रीनिंग के लिए आमजन का स्वास्थ्य चैकअप किया जाएगा। इसके लिए विभिन्न 9 हैल्थ मोबाईल टीम बनाई गई हैं, जिसके लिए डॉ0 ललित वर्मा(मो0 9812587799)को नोडल अधिकारी बनाया गया है। टीम नम्बर-1 सैक्टर 11-12 के लिए डॉ0 विशाल(मो0 7206049003), टीम नम्बर-2 सैक्टर 25 के लिए डॉ0 स्वाति(मो0 9034515665 ), टीम नम्बर-3 काबड़ी के लिए डॉ0 मनदीप(मो0 9518079695 )व डॉ0 रचना(मो0 8814840494 ), टीम नम्बर-4 समालखा के लिए डॉ0 विकास(मो0 9996490203 )व डॉ0 रजत मुंजाल(मो0 9466162400 ), टीम नम्बर-5 बापौली के लिए डॉ0 सोमबीर(मो0 9991145412 ), टीम नम्बर-6 नौल्था के लिए डॉ0 ज्योति दहिया मो0 9050240204 )व डॉ0 दिनेश बिन्द्रा(मो0 9466818165 ), टीम नम्बर-7 अहर के लिए डॉ0 नीना(मो0 9359084443 ),टीम नम्बर-8 मडलौडा के लिए डॉ0 निधि(मो0 9416733030 ), टीम नम्बर-9 खोतपुरा के लिए डॉ0 प्रतिभा मो0 9468230302 )व डॉ0 नीलु(मो0 9034938744 ) को लगाया गया है।
उन्होने बताया कि यह टीमें उक्त क्षेत्रों में हैल्थ चैकअप करेंगी और पुरानी किसी बिमारी के लिए जो रूटीन में चल रही है, उसकी दवाई भी उपलब्ध करवाएंगे, कोरोना से सम्बन्धित रोगियों की स्क्रीनिंग भी की जाएगी। सभी क्षेत्रों में किए गए कार्य का रिकार्ड भी हर रोज प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए हैं। सभी डॉक्टरों के साथ पैरा-मैडिकल स्टाफ भी लगाया गया है और उन्हें हिदायत दी गई हैं कि वे सावधानियां बरतते हुए सोशल डिस्टान्सिंग का भी ध्यान रखें और स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों की पालना करें।
——————————————————————————

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: