वायस ऑफ पानीपत (कुलवन्त सिंह) :- कस्बे में सड़क पर रात के अंधेरे में घूमते बेसहारा गोवंश जानलेवा साबित हो रहे हैं। समालखा गांव के खुशहाल परिवार को बेसहारा गोवंश उजाड़ दिया। समालखा निवासी फोटोग्राफर सोनू की खेत से लौटते समय गोवंश से बाइक टकराने पर जान चली गई। चंडीगढ़ पीजीआइ में उसे कोरोना संक्रमण भी हो गया था।

चौकी प्रभारी सब निरीक्षक राजकुमार ने बताया कि समालखा निवासी सोनू 4 सितंबर को नारायणा रोड स्थित अपने खेत में गया हुआ था। धान देखने के बाद वो कम्बाइन वाले के पास चला गया। शाम सात बजे के करीब बाइक से घर लौट रहा था तो रजवाहे से थोड़ा आगे आते ही बाइक के सामने अचानक गोवंश आ गया। उससे टकराने पर बाइक असंतुलित होकर गिरी और सोनू को सिर में गंभीर चोट आई। राहगीरों ने उठा सूचना स्वजनों को दी। स्वजन उसे पानीपत सामान्य अस्पताल ले गए। जहां से गंभीर हालात के चलते महाराजा अग्रसेन अस्पताल ले जाया गया। वहां भी हालात में सुधार नहीं हुआ तो चंडीगढ़ पीजीआइ ले गए। इलाज के दौरान सोनू ने दम तोड़ दिया।बेसहारा गोवंश को लेकर कस्बे की बात करे तो समालखा से लेकर गांव तक में सैकड़ों की संख्या में गोवंश घूम रहे हैं। चारे के लिए नेशनल हाईवे व गांव में बनी सड़कों पर निकल पड़ते हैं। और अंधेरे में दिखाई न देने व अचानक सामने आने पर हादसे का कारण बन जाते हैं।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: