वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- पाईट कॉलेज के शिक्षको के सम्मान में एक ऑनलाइन समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें मेंबर सेक्रेटरी सुरेश तायल, वाईस चेयरमैन राकेश तायल, मेंबर बी ओ जी शुभम तायल, डायरेक्टर डॉ शक्ति कुमार, डॉ विजय अठावले, डॉ विनय खत्री , डॉ अखिलेश मिश्रा, डॉ दिनेश वर्मा, रतनदीप अनेजा और कॉलेज के सभी शिक्षक ऑनलाइन माध्यम से शामिल हुए । डॉ अखिलेश मिश्रा ने कार्यक्रम की शुरुआत में बताया कि माँ बाप के बाद शिक्षक ही सही दिशा बताने वाला होता है। पुराने समय से ही गुरु को आदरणीय बताया गया है |

उन्होंने सभी शिक्षको को शिक्षक दिवस की बधाई दी। एम सी की छात्रा धैर्या  ग्रोवर, बीबेऐ के अमन ने भी अपनी स्पीच के जरिए सभी शिक्षकों के लिए आभार प्रकट किया। डायरेक्टर डॉ शक्ति कुमार ने सभी शिक्षकों को बधाई देते हुए यह सन्देश दिया कि शिक्षकों के लिए पिछले कुछ समय कोरोना महामारी के चलते बहुत चुनौतीपूर्ण रहा है। इसलिए शिक्षक को अब और ज्यादा तैयार रहना पड़ेगा। अब जमाना फ्लिप लर्निंग का है और शिक्षकों को अब फ्लिप क्लास में ही विद्यार्थियों को पढ़ाना चाहिए, इससे विद्यार्थियों को बहुत फायदा मिलेगा। उन्होंने फ्लिप लर्निंग और ब्लूम्स टैक्सनोंमी के सारे पहलुओं को अच्छी तरह से समझाया।

वाईस चेयरमैन राकेश तायल ने भी सभी शिक्षकों का आभार प्रकट किया और बताया कि लॉकडाउन में पाईट के सभी शिक्षकों ने ऑनलाइन क्लास लेने के लिए बहुत मेहनत की है और अपना बेस्ट सभी विद्यार्थियों को दिया। उन्होंने नए विद्यार्थियों को भरोसा दिलाया कि हमारे शिक्षक पूरे देश में सबसे मेहनती शिक्षक है। इस महामारी ने हमे एक बार फिर सोचने पर मजबूर कर दिया है कि हमे वक्त के साथ जल्द ही बदलना पड़ेगा और विद्यार्थियों को इस तरह से तैयार करना पड़ेगा कि उसने जो भी सीखा वो उसके लिए हमेशा काम आए। उन्होंने सभी शिक्षकों को कहा अब हर रोज नया सीखने की जरुरत है, नया खोजने की जरुरत है, अपने सोचने के तरीके को फ्लेक्सिबल बनाने की जरुरत है ताकि वक़्त पड़ते ही नई टेक्नोलॉजी सीखने के लिए तैयार रहे। डॉ विनोद दहिया और डॉ पूनम वर्मा ने पूरे कार्यक्रम को संयोजित तरीके से संचालित किया।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: