वायस ऑफ़ पानीपत(देवेंद्र शर्मा):- हरियाणा में स्कूल खुलने के साथ ही छह पड़ोसी राज्यों में बसों का संचालन शुरू हो गया है। पड़ोसी राज्यों द्वारा एनओसी जारी किए जाने तथा इन रूट पर यात्रियों की संख्या बढ़ने के बाद ही हरियाणा ने बसों का आवागमन बढ़ाया है।

हरियाणा सरकार द्वारा 23 मार्च से शुरू हुए लाकडाउन के बीच सभी बसों का आवागमन बंद कर दिया गया था। जून माह से दोबारा अंतर जिला बसों का संचालन किया गया तो सितंबर माह से अंतरराज्जीय बसों का संचालन शुरू किया गया। अनलाक-5 में जहां पहले की तरह सभी कार्यों का संचालन सामान्य हो रहा है वहीं कई बार पत्राचार के बाद दिल्ली व पंजाब सरकार ने अभी भी बसों के शत प्रतिशत आवागमन को मंजूरी नहीं दी है।हरियाणा सरकार के अधिकारियों द्वारा पिछले एक माह से दिल्ली, पंजाब व उत्तराखंड के अधिकारियों के साथ पत्राचार किया जा रहा है। इसके चलते दिल्ली को छोडकऱ अन्य छह राज्यों में बसों का आवागमन शुरू हो गया है। हरियाणा के परिवहन मंत्री मूल चंद शर्मा के अनुसार भले ही लाकडाउन के कारण रोडवेज को घाटा हुआ है लेकिन अब बसों का संचालन दोबारा शुरू कर इस घाटे को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। त्योहारों के चलते लोगों का आवागमन भी पहले के मुकाबले बढ़ा है। इसके चलते आज समीक्षा के बाद बसों की संख्या में बढ़ोतरी कर दी गई है।संभव है कि इसी सप्ताह दिल्ली सरकार द्वारा हरियाणा की सभी बसों को आइएसबीटी तक जाने की मंजूरी दे दी जाए। इसके बाद सरकार द्वारा वोल्वो बसों का भी पहले ही तरह संचालन किया जाएगा।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: