वायस ऑफ़ पानीपत (कुलवन्त सिंह) :-उच्चतर शिक्षा विभाग ने ओपन काउंसलिंग को लेकर बुधवार को नए आदेश जारी कर दिए। इसके तहत विभाग ने ऑनलाइन आवेदन की वरीयता को खत्म कर दिया है। अब विद्यार्थी 26 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। 28 अक्टूबर से 2 नवंबर तक वह कॉलेज में जाकर आवेदन भी कर सकेंगे और ऑफलाइन फीस भी जमा कर सकेंगे।इसके साथ ही विभाग ने 5 महीनों से दाखिले का इंतजार कर रहे यूजी के द्वितीय और तृतीय वर्ष के विद्यार्थियों को फीस जमा करने की अनुमति दे दी है। विद्यार्थी 23 से 31 अक्टूबर तक ऑफलाइन या ऑनलाइन फीस जमा कर सकते हैं। दो नवंबर से कक्षाएं शुरू कर दी जाएंगी। यह कक्षाएं ऑनलाइन लगेगी या ऑफलाइन इसको लेकर आदेश जारी नहीं किए हैं।

पानीपत में राजकीय, एडेड और सेल्फ फाइनेंस के करीब 11 काॅलेजों हैं। जिनमें करीब 9 हजार सीटों पर विद्यार्थियों का एडमिशन होना है। शहर के प्रमुख 5 काॅलेजों में ही यूजी की 5570 और प्रोफेशनल कोर्सेस की 820 सीटें हैं। जबकि सीबीएसई के 4298 और हरियाणा बोर्ड के 8628 विद्यार्थियों ने 12वीं की परीक्षा पास की हैं।दूसरी कट ऑफ लिस्ट जारी होने के कारण उच्चतर शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन ओपन काउंसलिंग के माध्यम से दाखिले किए जाने के आदेश जारी कर दिए। इस आदेश को जारी किए हुए करीब 10 दिन बीत चुके हैं लेकिन अभी तक 50 प्रतिशत सीटें खाली पड़ी है। इसको देखते हुए उच्चतर शिक्षा विभाग ने ओपन काउंसलिंग के नियमों में बदलाव कर दिया है। इसको लेकर बुधवार को नया शेड्यूल जारी कर दिया। इसके तहत 26 अक्टूबर तक विद्यार्थी ओपन काउंसलिंग के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: