वॉयस ऑफ़ पानीपत कुलवन्त सिंह :- बाबरपुर मंडी के आढ़ती से तीन पत्र फेंक 2 करोड़ की रंगदारी मांगने वाले मामले से पुलिस ने 4 दिन में ही पर्दा उठा दिया। सीआईए-1 की टीम ने इस मामले में दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी का दादा आढ़ती के पास काम करता है। उसका आढ़ती के घर पर आना-जाना था। उसने ही मछली फॉर्म हाउस पर काम करने वाले दोस्त के संग मिल रंगदारी वसूलने साजिश बनाई थी। दोनों आरोपी कम समय में अमीर बनने के सपने देखने लगे थे। पुलिस ने सोमवार को दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर 1 दिन की रिमांड पर ले लिया। पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुट गई है।

डीएसपी मुख्यालय सतीश वत्स ने बताया कि एक अक्टूबर को बाबरपुर मंडी के आढ़ती श्रीचंद ने सदर थाना में अज्ञात लोगों के खिलाफ दो ‌करोड़ की रंगदारी मांगने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस मामले की जांच सीआईए-1 को दी थी।टीम ने शक के आधार पर रविवार रात बाबरपुर के पास से आढ़ती श्रीचंद के 15 साल पुराने नौकर के पोते आकाश निवासी कचरौली और उसके दोस्त विकास निवासी पबाना घरौंडा को पकड़ लिया। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने पत्र फेंक आढ़ती से दो करोड़ रुपए मांगने की बात कबूल कर ली।पुलिस पूछताछ में आरोपी आकाश और विकास ने कबूला था कि उनकी आर्थिक स्थिति सही नहीं थी। वह कम समय में अमीर बनने के सपने देखने लगे। रंगदारी मांगने से दो महीने पहले उन्होंने आढ़ती के पोते का किडनैप करने की साजिश बनाई थी। ताकि दो करोड़ रुपए फिरौती वसूल सकें। इसके लिए उन्होंने गाड़ी और हथियार का इंतजाम करने की कोशिश की, लेकिन वह हो नहीं सका। इसलिए उसे कैंसिल कर दिया। जिसके बाद पत्र फेंककर वसूली करने की साजिश की।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: