वायस आफॅ पानीपत (कुलवन्त सिंह)- राइट टू रिकॉल का कानून हरियाणा सरकार ने सरपंचों के लिए लागू किया है। जिसपर लगातर विपक्ष की प्रतिक्रिया भी आनी शुरू हो चुकी है। विपक्ष लगातर सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाता नजर आ रहा है। अब पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी इसको लेकर आगे आए हैं।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि  हरियाणा में सरपंचों से पहले सांसदों और विधायकों पर राइट टू रिकॉल का कानून बनाया जाना चाहिए। आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि अगर हरियाणा सरकार सही मायने में कुछ करना चाहती है और प्रदेश का विकास चाहती है, तो वह सबसे पहले इस कानून को MLA और MP पर लागू करे।

ताकि प्रदेश में भ्रष्टाचार पूरी तरह से खत्म हो सके। हुड्डा ने प्रदेश सरकार पर निजीकरण और बेरोजगारी को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। वहीं दूसरी और INLD सुप्रीमों ने भी इस कानून पर तंज कसते हुए कहा कि ये कानून बासी कढ़ी में उबाल जैसा है। इस कानून को काफी पहले लागू किया जाना चाहिए था।

TEAM VOICE OF PANIPAT

Share: